surya ko majboot karne ke upay :- सूर्य को मजबूत करने के उपाय

Share Now...

सूर्य ग्रहों में सबसे प्रमुख हैं आध्यात्मिक विद्या,अग्नि एवं तेज है।

सूर्य आत्मा के कारक ग्रह है। व्यक्ति की आजीविका में सूर्य सरकारी पद का प्रतिनिधित्व करता है।

सूर्य नवग्रहो में राजा हैं। सूर्य हमारी आत्मा और पिता के कारक ग्रह है।

कुंडली मे सूर्य कमजोर होने पर पिता का सुख नही मिल पाता। सरकार से सहयोग और सरकारी नोकरी में सफलता नहीं मिलती है।

सूर्य कमजोर होने पर जीवन मे संघर्ष की अधिकता बढ़ जाती है , उच्च अधिकारियों से सम्मान नही मिलता है।

कमजोर सूर्य वाले जातक जीवन भर मेहनत करते है पर उन्हें उनकी मेहनत का फल नही मिलता जितने फल के वो हकदार होते है।

कमजोर सूर्य वाले जातक में आत्मविश्वास की कमी हमेशा बनी रहती है जिसके कारण कार्यक्षेत्र में उचित सफलता नही मिल पाती है ।

सूर्य ग्रह कमजोर होने पर कार्यक्षेत्र में सभी चीजो के फल को कमजोर कर देते है एवं बलवान अवस्था मे होने पर सभी का उचित लाभ मिलता है ।

कुंडली मे सूर्य छठे , आठवे या बारहवे घर मे हो या अशुभ ग्रह की दृष्टि हो या अंश बल में कमजोर होकर विराजमान हो तब जातक की कुंडली मे सूर्य कमजोर होते है एवं सूर्य से जुड़ी चीजो में जातक को उचित लाभ नहीं मिल पाता ।

सरकारी नौकरी , सरकारी सेवा , उच्च स्तरीय प्रशासनिक सेवा , मजिस्ट्रेट , राजनीति , सोने का काम करने वाले ,जौहरी , प्रबन्धक , राजदूत , चिकित्सक , दवाइयों से संबंधी, मैनेजमेंट , उपदेशक , मंत्र कार्य , तांबा ,स्वर्ण, माणिक , सींग या हड्डी के बने समान ,सरकारी मुखबीर , गेहूं से संबंधी , विदेश सेवा , लाल रंग के पदार्थ , शहद इत्यादि |

How to Make Sun Strong Astrology :- English

कमजोर सूर्य के लक्षण :-
• समाज मे मान सम्मान नही मिलना ।
• यश कीर्ति मिलने में कठिनाईयों का सामना करना।
• पिता का साथ छूट जाना।
• पिता से किसी ना किसी कारण दूरी बन जाना।
• पिता या पिता समान लोगों से मन मुटाव एवं विचारो में अलगाव।
• आत्मविश्वास में कमी।
• उच्च अधिकरियो का सहयोग ना मिलना।
• सरकार या सरकारी लोगो से सहयोग नही मिलना ।
• नोकरी में अस्थिरता बनी रहना।
• हमेशा कार्यक्षेत्र मे परेशानी बनी रहना ।
• कार्यक्षेत्र मे तरक्की नही होना।
• अहंकार की अधिकता बनी रहना ।
• आंख से संबंधित रोग होना ।
• अपने मन की बात किसी को बताने में डर लगना ।
• भीड़ भाड़ वाली जगह पसंद ना आना ।
• अकेलापन लगना और अकेले में रहना।

 

सूर्य  को  बलवान करने के कुछ महत्वपूर्ण उपाय:- 

1. सूर्य को बलवान बनाने के लिए सबसे महत्वपूर्ण उपाय सूर्योदय के पूर्व या उदय के समय उठे , देर तक सोने से कुंडली सुर्य कमजोर हो जाते है। किसी एक रविवार से नियमपूर्वक शुरू करके रोज सुबह जल्दी उठे।

2. प्रतिदिन प्रातः काल सूर्यदेव को एक ही लोटे से तीन बार अर्घ्य दे, अर्घ्य देते समय तांबे के लोटे का उपयोग करें एवं लोटे को दोनों हाथों के बीच रख कर अर्घ्य दे, सूर्य मंत्र :-“ॐ घृणी सूर्याय नमः” लोटे से दोनों अंगूठे को दूर रखें, जल चढ़ाने के पश्चात थोड़ा सा जल लोटे में बचा ले और उसे दाहिने हाथ मे ले कर बाएं हाथ से ढक कर तीन बार गायत्री मंत्र बोल कर अपने चारों तरफ छिड़क ले ।

3. सूर्य देव को अर्घ्य देने के पश्चात प्रतिदिन आदित्य ह्रदय स्त्रोत का 1 बार पाठ करें एवं रविवार को तीन बार पाठ करें ।

4. हर रविवार को एक मुट्ठी गेहूं एवं गुड़ का दान करे या गाय माता को आपने हाथ से खिला दे ।

5. माणिक रत्न धारण करे । ( कुंडली विश्लेषण के पश्चात ही माणिक धारण करें )

6. शुक्ल पक्ष के रविवार को सूर्योदय के समय भोजपत्र पर सूर्य यंत्र अनार की कलम द्वारा लाल चंदन से बना ले ,घी का दीपक लगा ले एवं सूर्य मंत्र :-“ॐ घृणी सूर्याय नमः” की 11 माला जाप करे एवं तीन बार आदित्य ह्रदय स्त्रोत का पाठ करें , उसके पश्चात बनाए हुए भोजपत्र वाले यंत्र को लाल कपड़े में ताबीज जैसा बना कर अपने गले या भुजा में धारण कर लें।
( ये उपाय आपको माणिक रत्न का लाभ देगा ) ।

7. सूर्य नमस्कार व्यायाम करें ।

8. पिता या पिता समान पुरुष का आदर सम्मान करे एवं प्रतिदिन पैर छू कर अपने माथे पर स्पर्श करें ।

9. प्रतिदिन मंत्र का 108 बार जाप जरूर करें
मंत्र ◆ॐ घृणी सूर्याय नमः◆

10. रविवार के दिन तांबा, गेहू , गुड़ आदि जरूरत मंद को दान करे ।

 

सूर्य ग्रह के बताए गए उपाय में से कुछ उपाय करके भी कुंडली में सूर्य को मजबूत कर सकते है एवं जीवन में आ रही परेशानियों को दूर कर सकते है ।
उपाय कम से कम 90 दिनों तक लगातार करे और उचित फल की कामना करे।

 

इस  अद्भुत  ज्ञान  और  महा उपाय  को  दुसरो  को  भी  शेयर  करे ।
आपका एक शेयर इस जानकारी और उपाय का अधिक से अधिक लोगो को लाभ पहुँचा  सकता  है।

 


Share Now...

4 Comments

  1. सूर्य ग्रह कमजोर होने के उपाय आपने बहुत सटीक जानकारी दी है जातकों को इससे लाभ होगा

  2. मेरे बिचार से सूर्य के उपायों से ज्यादा महत्वपूर्ण होगा सात्विक आहार और ब्यवहार और गायत्री मंत्र का जाप। पहले शुद्ध शाकाहारी भोजन, किसी भी प्रकार का कोई नशा नहीं, चरित्र पर संयम, राम नाम का निरंतर स्मरण और गाय की सेवा। ईतने भर से बहुत लाभ होगा। आज की कलियुगी दुनियां में बाकी सब ईतना आसान नहीं होगा।

    • जी जोशी जी,
      AstroScienceco आपकी बात से पूर्ण रूप से सहमत है ,
      मानव जीवन का सबसे बड़ा उपाय सात्विक रहना , राम नाम का जाप और गाय माता की सेवा ही है ।

      “आपके द्वारा दिया गया feedback और कीमती समय के लिए AstroScienceco आपका बहुत बहुत धन्यवाद करता है”

9 Trackbacks / Pingbacks

  1. 21 जून 2020 पर होने वाले सूर्य ग्रहण को करे ये महा उपाय
  2. कुंडली मे चंद्रमा ग्रह कमजोर होने एवं मानसिक अशांति होने के कारण और उनके उपाय
  3. Mansik Asanti Hone Ke Karan Aur Unke Upay:-मानसिक अशांति होने के कारण और उनके उपाय – Astro science
  4. Hariyali Amavasya | क्यों मनाई जाती हैं हरियाली अमावस्या ...
  5. ज्योतिष में ज्योतिष में ग्रहों के सेनापति मंगल ग्रह के कमजोर होने के कारण एवं उपाय
  6. ज्योतिष में ज्योतिष में ग्रहों के सेनापति मंगल ग्रह के कमजोर होने के कारण एवं उपाय
  7. ज्योतिष में ज्योतिष में ग्रहों के सेनापति मंगल ग्रह के कमजोर होने के कारण एवं उपाय
  8. चंद्रमा ग्रह कुंडली मे कमजोर होने एवं मानसिक अशांति होने के कारण और उनके उपाय
  9. गुरु बिना ज्ञान कहाँ और ज्ञान बिना जीवन अधूरा सा है, नवग्रहों में सभी ग्रहों के गुरु है

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*